शादी करा रहे पंडित के साथ ही फरार हो गई दुल्हन, साथ ले उड़ी 1.5 लाख के गहने



दरअसल 7 मई को सुषमा की शादी बासौदा के आसठ गाँव के रहने वाले एक व्यक्ति से हुई थी। इस शादी को कराने के लिए विनोद महाराज नाम के एक पंडित को बुलाया गया था। विनोद गाँव के ही एक मंदिर में पंडित का कार्य करता हैं। विनोद ने सुषमा और युवक के सात फेरे करवाए और फिर वो विदा होकर अपने ससुराल भी चली गई। शादी के 3 दिन बाद सुषमा अपने मायके रहने आई। इसी बीच यहाँ 23 मई को एक दूसरी शादी होना थी। ये शादी भी पंडित विनोद महाराज करवाने वाले थे। हालाँकि शादी वाली रात वे नहीं आए। ऐसे में सभी ने उन्हें काफी ढूँढा, लेकिन वो फिर भी नहीं मिले। इधर सुषमा भी घर से गायब थी। ऐसे में लोगो को शक हुआ और उन्होंने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज करवा दी।

पहले से शादीशुदा हैं पंडित


यानी 7 मई को जिस पंडित ने सुषमा की शादी करवाई थी 23 मई को वो उसी के साथ भाग गई। अगर आपको ये बात सुनकर आश्चर्य हो रहा हैं तो जरा ठहरिए। दुल्हन जिस पंडित के साथ भागी हैं वो पहले से शादीशुदा हैं और उसके दो बच्चे भी हैं। इतना ही नहीं पंडित की पत्नी को इसकी पहले से ही जानकारी थी। इसलिए जब सुषमा के भागने पर पंडित के परिवार को ढूँढा गया तो वो भी गायब था। जांच पड़ताल में पुलिस को पता चला कि विनोद पंडित और सुषमा का पिछले दो वर्षो से लव अफेयर चल रहा था। मतलब ये पुराने प्रेम प्रसंग का मामला था।

ससुराल से ले उड़ी गहने और नगदी


अब ये किस्सा यहीं समाप्त नहीं होता हैं। दुल्हन जब घर से भागी तो वो अपने साथ 1.5 लाख कीमत के गहने और 30 हजार रुपए की नगदी भी ले उड़ी। इस खबर ने गाँव वालो को बहुत अचंभे में डाल रखा हैं। इसके पहले कभी किसी ने इस तरह का किस्सा नहीं सूना था। 
close