दो प्यार करने वालों को पंचायत का फरमान, प्यार का अंजाम-लड़की वाले को दो 18 लाख, नहीं तो लड़की करो वापस, फिर लड़के ने किया कुछ ऐसा दंग रह गए सभी

शादी के बाद पंचायत ने फरमान सुनाया है कि लड़के पक्ष के लोग 18 लाख रुपये देकर ही लड़की को अपने पास रख सकते हैं, नहीं तो उन्हें लड़की वापस देनी होगी. मामला भरतपुर जिले के रुदावल थाना क्षेत्र का है जहां एक सलोनी नाम की लड़की ने एक रूपवास निवासी हिमांशु नाम के लड़के से बीते 9 सितंबर को मंदिर में शादी कर ली थी. इसके बाद उन्होंने भय की वजह से 16 सितंबर को राजस्थान हाईकोर्ट में सुरक्षा के लिए याचिका दायर की थी. जिस पर कोर्ट ने जिला पुलिस अधीक्षक व संबंधित थाना प्रभारी को निर्देश दिया कि दंपति को सुरक्षा मुहैया कराई जाए. मैरिज करने के बाद लड़की के परिजनों ने सलोनी और हिमांशु का जीना मुश्किल कर दिया है. 

पीड़ित लड़की सलोनी ने बताया कि उसने अपनी इच्छा से हिमांशु नाम के लड़के से अपनी मर्जी से शादी की थी, लेकिन उसके माता-पिता को यह रिश्ता मंजूर नहीं था और सलोनी के माता-पिता उसे देह व्यापार में धकेलना चाहते थे. सलोनी के माता-पिता पहले भी उसे देह व्यापार में धकेल चुके हैं, लेकिन साल  में एक पुलिस की रेड में सलोनी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था और नाबालिग होने के कारण उसे पांच महीने के लिए नारी निकेतन में रखा था. हालांकि, कुछ समय बाद सलोनी ने शादी करने की इच्छा जताई. इसके बाद पुलिस ने सलोनी को उसके घरवालों के पास छोड़ दिया. इसके बाद सलोनी कुछ समय तक अपने माता-पिता के पास रही और उसके बाद हिमांशु से उसको प्रेम हो गया और उससे शादी कर ली. 
close