37 साल की मां की मदद के लिए दिन में पढ़ाई और रात में फूल बेचते हैं ये मासूम, देखिए उनकी रुलाने वाली कहानी

इन दोनों बच्चों की कहानी सोशल मीडिया के जरिए लोगों के सामने आई। सोशल मीडिया के मुताबिक, अपनी गरीब मां की मदद के लिए बच्चों ने पढ़ाई के साथ ही साथ चमेली का फूल बेचने का कार्य शुरु किया। आपको बता दें कि चमेली के इस फूल को फिलिपिन जैसमिन या अरेबियन जैसमिन भी कहा जाता है। सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही इस कहानी के मुताबिक, 11 वर्षीय मार्लोन और उसके 9 वर्षीय भाई मेल्विन मेंडोज़ा फिलीपींस के क्यूज़न शहर में एक फुटपाथ पर चमेली का फूल बेचकर अपना गुजारा करते हैं।
खबर के मुताबिक, अपनी 37 वर्षीय गरीब मां रोशेल की मदद के लिए बच्चों ने पढ़ाई न छोड़ने का फैसला करते हुए फूल बेचने का रास्ता अपनाया। आपको बता दें कि ये बच्चे अपने पिता के अवैध तरीके से नशीली दवाओं की बिक्री के आरोप में जेल जाने के बाद ये काम करने को मजबुर हैं। आपको बता दें कि सैम्पाग्वीटा यानि चमेली का फूल फिलीपींस का राष्ट्रीय फूल है इसी वजह से इसकी डिमांड यहां ज्यादा रहती है। यही वजह है कि गरीब मां की मदद के लिए बच्चों ने चमेली का फूल बेचने का काम शुरु किया है।
close