4 साल पहले गायब हुआ था लड़का, कोरोना के दौर में अचानक दरवाजे पर खड़ा मिला 4 साल से लापता बेटा! माँ बाप हो गए हैरान, फिर उसने जो सुनाई कहानी

ऐसी कहानियां हम बीते जमाने की बॉलीवुड फिल्‍मों में खूब देखते रहे हैं। लेकिन रील लाइफ की यह कहानी बिहार के सारण स्थित भेल्दी थाना स्थित मित्रसेन गांव की हकीकत है। वहां स्थित अपने घर से चार साल पहले लापता अजय कुमार को लेकर जब उत्‍तर प्रदेश पुलिस पहुंची तो सभी के आश्‍चर्य का ठिकाना नहीं रहा। घर वाले तो उसे मृत मानकर अंतिम संस्‍कार तक कर चुके थे। लेकिन अजय तो जिंदा सामने खड़ा था।

जानिए क्‍या है पूरा मामला

चलिए, अब मामला समझते हैं। घर से लापता होने के बाद अजय भटकता हुआ यूपी के बाराबंकी चला गया था। वहां एक अपराध के सिलसिले में उसे साल 2017 में जेल हो गई। उसने इसके बाद घरवालों से कोई संपर्क नहीं किया। वहां उसे जमानतदार नहीं मिला, यहां घरवाले उसे खोजकर हार गए। बीतते वक्‍त के साथ उसके वापस आने की उम्‍मीद कम होती गई। घरवालों ने मरा मानकर उसका श्राद्धकर्म कर दिया। इस बीच कोरोना संक्रमण के कारण कोर्ट ने कुछ कैदियों को पैरोल पर रिहा किया। इन कैदियों में अजय भी था। फिर, यूपी पुलिस उसे लेकर उसके घर पहुंची।
close