मौलाना साद के जीवन के ये 5 राज़ बहुत कम लोगों को है मालूम, जानकर आपको यकीन नहीं होगा

तबलीगी जमात के नेता और मौलाना साद फ़िलहाल मीडिया में छाये हुए हैं. दिल्ली पुलिस ने मौलाना साद समेत कई अन्य लोगों को नोटिस जारी करते हुए लॉकडाउन के आदेशों का कथित तौर पर पालन नहीं करते हुए धार्मिक कार्यक्रम को आयोजित करने के आरोप में FIR दर्ज की है. मौलाना साद का जीवन सफर बेहद ही शानदार रहा है. आज के इस लेख में हम आपको मौलाना साद के जीवन से जुड़े कुछ राज़ बताने जा रहे हैं. आइये जानें-

मौलाना साद के जीवन के ये 5 राज़ बहुत कम लोगों को है मालूम, जानकर आपको यकीन नहीं होगा
Third party image reference
1- मौलाना साद का पूरा नाम मोहम्मद साद कांधलवी है. इनका जन्म दिल्ली में 10 मई 1955 को हुआ था.

Third party image reference
2- मौलना साद तबलीगी जमात के संस्थापक मुहम्मद इलियास कांधलाव के बड़े पोते हैं.
3- तबलीगी जमात के मौलाना साद ने हजरत निजामुद्दीन मरकज के मदरसे काशिफुल उलूम से आलिम की शिक्षा हासिल की है.
4- मौलना साद के बुजुर्ग शामली के कांधला के रहने वाले थे. इसी वजह से इनके परिवार के सदस्य अपने नाम में कांधला लगाते हैं.

Third party image reference
5- मौलना इनामुल हसन की वफात (मृत्यु) के बाद मौलना साद को 1995 को मरकज की कमान सौंपी गयी. आपको बता दें मौलाना साद स्वयं को तबलीगी जमात का अमीर घोषित कर चुके हैं.
close