पिता का कटा हाथ देखकर घबराएं ना माँ, इसलिए ASI पिता की कलाई कटते ही बेटे ने बंद कर दिया था TV पर फिर.....

हरजीत सिंह पटियाला के सदर पुलिस स्टेशन में तैनात हैं। 1989 में हरजीत ने पुलिस फोर्स जॉइन की थी। एक साल पहले ही वो एएसआई बने। वह अपनी पत्नी बलविंदर कौर, बेटा अर्शप्रीत के साथ पटियाला में ही रहता है। जबकि एएसआई के माता-पिता उनके छोटे भाई गुरजीत के साथ पटियाला से 20 किलोमीटर दूर रहते हैं।
हरजीत सिंह के भाई गुरजीत ने बताया, सुबह 6 बजे के आसपास मेरे एक दोस्त का फोन आया। उसने बताया कि हरजीत सिंह का किसी ने हाथ काट दिया है। यह सुनते ही मेरे होश उड़ गए और मैं फटाफट पटियाला पहुंच गया। वहां जाकर देखा तो सचमुच भैया का हाथ कटा था। इस बाद भी उनके चेहरे पर कोई शिकन नहीं था। 
close