दोनों हाथ काटकर जिंदा जालने वाला दंगाई चढा पुलिस के हत्थे, खोले ऐसे ऐसे राज, जानकर आपके भी उड़ जायंगे आपके होश

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने उत्तरी पूर्वी दिल्ली में दंगों के दौरान उत्तराखंड के रहने वाले दिलबर सिंह नेगी की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी शाहनवाज को गिरफ्तार कर लिया है. दिलबर शिव विहार इलाके में स्थित अनिल स्वीट हाउस में काम करते थे और उनका शव बुरी तरह जली हुई हालत में दुकान के अंदर ही बरामद हुआ था.

क्राइम ब्रांच की SIT के अधिकारियों के मुताबिक, 24 फरवरी को जब शिव विहार तिराहा के पास दंगे शुरू हुए तो उसी इलाके के रहने वाले शाहनवाज और कई लोगों में मिलकर पथराव किया और कई दुकानों में तोड़फोड़ कर आग लगा दी. शाहनवाज अपने साथियों के साथ एक बुक स्टोर और एक मिठाई की दुकान के अंदर घुसा और दोनों जगहों पर आग लगा दी.

अधिकारियों ने बताया कि 26 फरवरी को मिठाई की दुकान के अंदर एक शख्स का शव इतनी बुरी तरह जली हुई हालत में मिला कि जले हुए सामान के बीच में केवल उसका जला हुआ हाथ नजर आ रहा था. 
close