इस देश ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर लगाया दस लाख का जुर्माना, ड्रोन से पूरा शहर किया जा रहा सैनिटाइज

लोगो को कोरोना से बचाने के लिए दुबई को लॉकडाउन किया गया है। 26 मार्च से यहाँ लॉकडाउन लागु हो चूका है। जरूरत के सामान की होम डिलीवरी की जा रही है। रसाेई गैस और पानी की बोतलें फ़ोन कर मंगाई जा सकती है।

यहाँ ‘पैनिक परचेज’ नहीं है। क्यूंकि दुबई सरकार ने प्रतिबन्ध को धीरे-धीरे लागू किया है। दुबई में लॉकडाउन के नियम काफी कड़े है लॉकडाउन के समय पकड़े जाने पर 50 हजार दिरहम (लगभग 10 लाख रुपए) तक जुर्माना लगाया गया है। सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बसों और मेट्रो मे अलग नियम है। सरकार ने दुबई में सैनिटाइजेशन ड्राइव को 4 अप्रैल तक बढ़ा दिया है।

दुबई में मौजूद सभी 17 हजार टैक्सियो को सैनिटाइज किया गया है। सैनिटाइजेशन के लिए ड्रोन का भी सहारा लिया जा रहा है। लेकिन इस बीच वहां फसे प्रवासी मजदूरो को ऐसे हालात में अपने वतन वापस लौटना पड़ सकता है। सुपर मार्केट, बैंक, मॉल अस्पताल जैसे हर सार्वजनिक जगहों पर सैनिटाइजेशन पर जोर दिया जा रहा है। बैंकों में पैसे और कागजात का लेनदेन ग्लव्स पहन लिफाफों में किया जा रहा है।
close