कोरोना की वजह से नही मिल पा रहे है प्रेमी प्रेमिका ना लग सकते हैं गले, ना किस, बॉर्डर पर इस तरह चुपके-चुपके मिल रहे हैं दिल

हालांकि स्विट्जरलैंड यूरोपियन यूनियन का हिस्सा तो नहीं है लेकिन स्विट्जरलैंड की सरकार से एक समझौते के तहत यूरोप के लोग वहां जा सकते हैं।
कोरोना के कारण कुछ दिनों तक लोग वीडियो कॉल पर बातें करते रहे लेकिन अब उन्होंने एक-दूसरे से तार के दोनों तरफ से मिलना शुरू कर दिया है।

इस बॉर्डर की काफी चर्चा रही है। यहां सेकंड वर्ल्ड वॉर के बाद तार लगाए गए थे। लेकिन फिर इसे हटा दिया गया था। कोरोना की वजह से लोगों को तारों दूसरी तरफ खड़े होकर एक-दूसरे से मिलना पड़ रहा है।इस बॉर्डर की काफी चर्चा रही है। यहां सेकंड वर्ल्ड वॉर के बाद तार लगाए गए थे। लेकिन फिर इसे हटा दिया गया था। कोरोना की वजह से लोगों को तारों दूसरी तरफ खड़े होकर एक-दूसरे से मिलना पड़ रहा है।

इसके पहले यूरोप के लोग बिना किसी रुकावट या वीजा के स्विट्जरलैंड में जा सकते थे और वहां से लोग इधर भी आ सकते थे।इसके पहले यूरोप के लोग बिना किसी रुकावट या वीजा के स्विट्जरलैंड में जा सकते थे और वहां से लोग इधर भी आ सकते थे।

हालांकि स्विट्जरलैंड यूरोपियन यूनियन का हिस्सा तो नहीं है लेकिन स्विट्जरलैंड की सरकार से एक समझौते
के तहत यूरोप के लोग वहां जा सकते हैं।हालांकि स्विट्जरलैंड यूरोपियन यूनियन का हिस्सा तो नहीं है लेकिन स्विट्जरलैंड की सरकार से एक समझौते के तहत यूरोप के लोग वहां जा सकते हैं।
close