चाह कर भी इस मासूम बच्चे को छू नहीं सकते माता- पिता, बस देखकर रोती रहती है मां, वजह जानकर आपकी आँखों में भी आ जायंगे आंसू

एक दिन विक्टर और एड्रियाना अपने बच्चे को गोद में जैसे ही लिया वह कापने लगा और काफी जोर से रोने लगा इसके बाद दोनों घबरा कर तुरंत डॉक्टर को बुलाया डॉक्टर ने जो बात बताई उसे सुन दोनों चौक गए।

डॉक्टर ने जांच में पाया कि एड्रिन को एपीडरमोलिसिस बुल्लोसा नाम की स्किन डिजीज है। जो बहुत ही कम लोगो में होती है। जिसका इलाज संभव नहीं है क्योंकि इस बीमारी में शरीर पर अपने से जख्म बनने शुरू हो जाते हैं और चमड़ी अपने आप उतरने लगती है उस दौरान इंसान को पूरे शरीर में काफी जलन महसूस होती है इस बीमारी से ग्रस्त बच्चे ज्यादा दिन तक जिंदा ना रह कर 1 साल के अंदर ही मर जाते हैं।

एड्रीन के इलाज में हर महीने 10 से 11 लाख रुपये का खर्च आता है जिसके लिए विक्टर और एंड्रियाना अब लोगों से एड्रीन के इलाज के लिए मदद करने की अपील कर रहे है।
close