जो जमाती पहले डॉक्टर्स पर थूक रहे थे, इधर उधर भाग रहे थे वो ही आज डॉक्टर्स के आगे मांग रहे है जिन्दगी की भीख, वजह जानकर रह जाओगे दंग

प्रदेश के कानपुर जिले में तबलीगी जमात से जुड़े तीन लोगों को हैलट अस्पताल स्थित आइसोलेशन वॉर्ड में भर्ती कराया गया था।

शुरुआत में इस बात की शिकायत मिली की ये तीनों इलाज में न तो डॉक्टरों का सहयोग कर रहे हैं बल्कि इन्होंने हेल्थ स्टाफ के साथ बदसलूकी भी की। वहीं, जब इन लोगों की स्थिति बिगड़ने लगी तो कोरोना से संक्रमित तीनों, मेडिकल स्टाफ के सामने बिलख-बिलखकर रोने लगे। इन लोगों ने हेल्थ वर्कर्स के सामने गिड़गिड़ाकर जान बचाने का आग्रह किया।

 'शुरुआत में ये तीनों वक्त पर दवा नहीं खाते थे, डॉक्टरों का सहयोग भी नहीं करते थे। लेकिन अब वे पूरी तरह से डॉक्टर्स, नर्सों की बात मान रहे हैं। बाकी रोना वगैरह यह मनोवैज्ञानिक असर है। जब भी कोई शख्स बहुत ज्यादा डर जाता तो इस तरह की प्रतिक्रिया देता है।'
close