रामानंद सागर के हनुमान थे सबसे महंगे कलाकार, दारा सिंह ने रामायण के लिए ली थी इतनी फीस

भले ही आज की पीढ़ी दूरदर्शन के उस रामायण का अनुभव नहीं कर पा रही हो जिसके प्रसारित होते ही सब टीवी के सामने बैठ जाते थे, यहाँ तक की रामायण सीरियल प्रसारित होने के दौरान रस्ते-गलियों में एक बच्चा भी नहीं दिखता था। रामायण को अब 33 साल होने को है लेकिन ऐसा लग रहा है की इतिहास फिर से दोहराया जा रहा है क्योकि इस बाद दूरदर्शन पर रामायण फिर से प्रसारित हो रही है और बाहर कोई व्यक्ति दिखाई नहीं दे रहा, लेकिन इस बार वजह कुछ ओर है कोरोना वायरस।जिसमे 21 दिन का लॉकडाउन है और सभी लोग घर पर बैठकर एकबार फिर रामायण पुरे परिवार के साथ देख रहे है।

Third party image reference
33 साल के लंबे समय में बहुत कुछ बदल गया है, रामायण के वो यादगार किरदार जो आज भी लोगों के जहन में है, लेकिन आपकी जानकारी के लिए बतादे की उनमे से कुछ कलाकार इस दुनिया में अब नहीं रहे हैं। इन्ही में से एक है दारा सिंह।
आपको बता दें कि रामायण में हनुमान का किरदार निभाने वाले दारा सिंह अपने जमाने के विश्व प्रसिद्ध फ्रीस्टाइल पहलवान रहे हैं। उन्होंने 1959 में पूर्व विश्व चैम्पियन जार्ज गारडियान्का को पराजित करके कामनवेल्थ की विश्व चैम्पियनशिप जीती थी। 1968 में वे अमरीका के विश्व चैम्पियन लाऊ थेज को पराजित कर फ्रीस्टाइल कुश्ती के विश्व चैम्पियन बन गये। उन्होंने पचपन वर्ष की आयु तक पहलवानी की और पाँच सौ मुकाबलों में किसी एक में भी पराजय का मुँह नहीं देखा। 1983 में उन्होंने अपने जीवन का अन्तिम मुकाबला जीतने के पश्चात कुश्ती से सम्मानपूर्वक संन्यास ले लिया।
उन्नीस सौ साठ के दशक में पूरे भारत में उनकी फ्री स्टाइल कुश्तियों का बोलबाला रहा। बाद में उन्होंने अपने समय की मशहूर अदाकारा मुमताज के साथ हिन्दी की स्टंट फ़िल्मों में प्रवेश किया। दारा सिंह ने कई फ़िल्मों में अभिनय के अतिरिक्त निर्देशन व लेखन भी किया। उन्हें टी० वी० धारावाहिक रामायण में हनुमान के अभिनय से अपार लोकप्रियता मिली। कम ही लोग जानते हैं कि उस जमाने में दारा सिंह ने रामायण के लिए मोटी रकम वसूल की थी।

Third party image reference
रामानंद सागर की रामायण के लिए दारा सिंह को सबसे सटीक पाया गया था। उन्होंने अपने किरदार को शो में बखूबी निभाया भी था। दारा सिंह का हुनर और लंबी-चौड़ी पर्सलैनिटी उनके किरदार को बहुत शूट करती थीं और उनके किरदार को बहुत पसंद भी किया गया है। उन्होंने अपने आगे अच्छे-अच्छे स्टार्स को फेल कर दिया था।

Third party image reference
दारा सिंह को उस वक्त जिस राशि का भुगतान किया गया वो किसी भी बड़े एक्टर को मिलने वाली फीस से कम नहीं थी। भगवान हनुमान के किरदार के लिए दारा सिंह को 30 से 33 लाख रुपए दिए जाते थे। जो कि आज करीब 10-20 करोड़ के बराबर हैं। छोटे परदे पर राम-सीता के जीवन को लेकर बना ये पहला शो था। जिसे रामानंद सागर खास फैमिली टाइम के रूप में लेकर आए थे।
close