बहन के साथ आपत्तिजनक हालत में था दोस्त, पहुंच गया भाई और इसके बाद जो हुआ उसे जानकर दंग रह जायेंगे आप

 एक आरोपी को मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जानकारी के अनुसार, 12 अक्टूबर को बलीपुरा गांव का रहने वाला इरशाद पुत्र महबूब अपने दोस्तों दीपक पुत्र शीशपाल और छोटू पुत्र पूरणनाथ निवासी कासमपुर खोला से मिलने गया था।

इसके बाद उसका कुछ पता नहीं चला। परिजनों उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। 

शव मिलने के बाद पुलिस ने मामले में दीपक पुत्र शीशपाल निवासी कासमपुर खोला को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। पूछताछ के दौरान दीपक ने इरशाद की हत्या करने की बात कबूल कर ली। पूछताछ में आरोपी ने चौंकाने वाला खुलासा किया। सामने आया कि दीपक की बहन का प्रेम प्रसंग इरशाद से चल रहा था। कुछ दिन पहले दीपक ने अपनी बहन को इरशाद के साथ आपत्तिजनक हालत(Objectionable Condition ) में देख लिया था। इसके बाद से ही दीपक का गुस्सा सातवें आसमान पर थआ। उसी दौरान दीपक ने उसकी हत्या करने की ठान ली।

दीपक ने अपने दोस्त छोटू के साथ मिलकर इरशाद को  बुलाया और गंगा बैराज ले गए। यहां पर तीनों ने शराब पी। शराब पीने के बाद दोनों ने इरशाद की कासमपुर के जंगल में गला घोंटकर हत्या कर दी। शव जंगल में छिपा दिया। आपको बता दें कि मृतक इरशाद विवाहित था, वह दो बच्चों का पिता था। पुलिस ने दीपक को जेल भेज दिया है, वहीं छोटू की तलाश की जा रही है।
close