लोगो को मौत की नींद सुलाकर स्वच्छ हो रहा है वातावरण, बताया एक और आने वाली है भयंकर समस्या: नासा

नासा के अनुसार, हर समय चाइना का आसमान काला दिखने वाला, अब नीला दिखने लगा है। जिसका बड़ा कारण कोरोना वायरस बताया गया है, यह कोरोना की वजह से ऐसा हो रहा है, जिसकी वजह से चाइना ने अपने यहां इंडस्ट्रियल एरिया को बंद कर दिया है, जिससे जहरीली गैस एवं प्रदूषण नहीं फैल पा रहा।

एजैंसी एडगर डाटाबेस की रिपोर्ट के मुताबिक, वर्ष 2017 में यह रिपोर्ट निकाले गए थे, जिसमें बताया गया था कि, जहरीली गैस उत्पादन करने के मामले में चाइना पहले नंबर स्थान पर है। जबकि अमेरिका दूसरे और भारत तीसरे नंबर स्थान पर है।

बताया गया है चाइना में प्रत्येक वर्ष जहरीली गैस 10,641 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन उत्सर्जनकरता है, अमेरिका 5,414 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन उत्सर्जनकरता है, जबकि भारत 2,274 मिलियन मीट्रिक टन कार्बनउत्सर्जित करता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि, पूरे विश्व का 30% कार्बन केवल चाइना उत्सर्जित करता है।
close