रामनवमी पर मुस्लिम महिलाओं ने किया पूजा, कहा- "तब्लीगी जमात के लोगों ने कोरोना फैलाकर पाप किया, भगवान अब दिलाएंगे मुक्ति"

तब्लीगी जमात के पाप से पूरे देश में अचानक कोरोना वायरस के मामलों में तेजी आ गई है। इसके लिए महिलाओं ने भगवान श्रीराम से प्रार्थना की कि इनके पाप से भारत को मुक्त कराएं। सांप्रदायिक एकता की मिशाल के रूप में हमेशा महिलाओं की श्रीराम आरती को देखा जाता रहा है। अबकी बार महिलाओं द्वारा भगवान राम की आरती भारत को कोरोना संकट से मुक्ति दिलाने के लिए की गई।


महिलाओं ने उर्दू में लिखी श्रीराम आरती और श्रीराम प्रार्थना का गायन किया और संकट मोचक राम भक्त हनुमान चालीसा का पाठ कर इस भयानक संकट से मुक्त कराने के लिए प्रार्थना की। जिस तरह से भगवान राम ने राक्षसों के आतंक से भारत भूमि को मुक्त करा दिया था, उसी तरह से कोरोना रूपी राक्षस के आतंक से भारत को मुक्त कराएंगे। सभी महिलाओं का यह मानना है कि भगवान राम के धरती पर अवतार लेने के दिन अर्थात् रामनवमी के दिन से ही कोरोना का संकट कम होगा और जल्द ही खत्म हो जाएगा। 
close