नाक को नोटों से साफ कर बोला- "कोरोना बीमारी नहीं, अल्लाह का श्राप है, विडियो हुआ विराल तो पुलिस ने पकड़ा और उसके साथ जो हुआ...

इस वीडियो में वह यह कहता हुआ दिखाई दे रहा है- 'कोरोना जैसी बीमारी का कोई इलाज नहीं है. ये बीमारी नहीं, ये अल्लाह का अजाब (श्राप) है, आप लोगों के लिए. वीडियो में दिख रहा है कि शख्स पांच-पांच सौ के नोटों से नाक साफ कर रहा है. ट्विटर पर शेयर हुए इस वीडियो के साथ लिखा गया है- यह व्यक्ति कोरोना संक्रमित हो सकता है. यह नोटों से अपनी नाक पोंछ रहा है. नाक पोंछकर और थूककर यह नोटों को भी संक्रमित कर सकता है. वीडियो में शख्स खुद भी ऐसा ही कुछ इशारा कर रहा है.

बता दें कि कोरोना वायरस का संक्रमण देश में काफी तेजी से बढ़ा है और यह गुरुवार तक दो हजार के करीब पहुंच गया है. मृतकों की संख्या 50 से ज्यादा हो गयी है. कोरोना वायरस के मामलों में इजाफे के लिहाज से एक दिन में अब तक की सबसे अधिक बढ़ोतरी दर्ज की गई है और 328 मामले दर्ज किए गए
close