छोले कुलचे का ठेला लगाती हैं करोड़ों के बंगले में रहने वाली उर्वशी, वजह जान आप भी बोलेंगे बीवी हो तो ऐसी..

कुछ वक्त ये काम किया लेकिन इससे भी काम नही चला तो उसने तय किया कि कुछ अलग करना पड़ेगा तो सब कहते थे उर्वशी खाना अच्छा बनाती है तो उर्वशी ने अपनी ही कॉलोनी के बाहर एक ठेला लगा लिया और उस ठेले पर वो बेहद ही स्वादिष्ट छोले कुलचे बेचने लगी.

आस पास के कई सारे बहुत सारे लोग उर्वशी के पास खाने के लिए आने लगे और इससे वो हर रोज के लगभग दो हजार रूपये कमा लेती है और इससे घर का खर्च भी काफी आसानी से चल रहा है और बच्चो की पढाई और पति की दवाईयों को लेकर के जो टेंसन होने लगी थी वो भी आखिरकार खत्म हो गयी है उर्वशी देश की महिलाओं के लिए एक आदर्श की तरह है और कही न कही उन्हें फोलो करने की जरूरत है.

जहाँ आजकल ऐसी महिलाए देखने में आती है जो अपने परिवार से बिलकुल मतलब ही नही रखती है वही दूसरी तरफ उर्वशी जैसी महिलाए भी होती है जो कही न कही अपने परिवार के लिए जीती है
close