कोरोना फ़ैलाने के जुर्म में कनिका कपूर पर हुई थी F.I.R, 6 महीने तक की हो सकती है सजा, इस दिन पुलिस कर सकती है गिरफ्तार

गया की उन्होंने कोरोना से संक्रमित होने की बात छुपाई है तो उन्हें 6 महीने तक की जेल की सजा हो सकती है। कनिका पर धारा 269 और 270 के तहत केस दर्ज है। हालांकि ये तय है कि कनिका से पूछताछ केवल 14 दिन पूरा हो जाने के बाद शुरू होगी। CMO की FIR रिपोर्ट के मुताबिक, कनिका कपूर पर एक खतरनाक बीमारी फैलाने का आरोप है जो लोगों की जान ले सकती हैं और इसके बाद सरकारी अफसर की बात ना मानने का आरोप है।

कोरोना फ़ैलाने के जुर्म में कनिका कपूर पर हुई F.I.R, 6 महीने तक की हो सकती है सजा
Third party image reference
गौरतलब है लखनऊ में पार्टियां करना कनिका कपूर के लिए भारी पड़ चुका है। उनके अलावा दो और FIR दर्ज हैं जो लखनऊ के हज़रतगंज और गोमती नगर पुलिस स्टेशन में दर्ज हुई है। कनिका कपूर पर FIR करने वाले हैं इंसान हैं नरेंद्र कुमार अग्रवाल जो लखनऊ के चीफ मेडिकल ऑफिसर हैं। निका कपूर पर FIR का आदेश उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर हुआ है। ऐसे में कनिका कपूर का इस केस से बच पाना काफी मुश्किल लग रहा है। वहीं सरकारी डॉक्टरों ने भी उन पर बात ना मानने और इलाज के दौरान सहयोग ना करने के आरोप लगाए हैं।

Third party image reference
269 सेक्शन के मुताबित, कोई भी गैर ज़िम्मैदारी या गैर कानूनी तरीके से ऐसा कोई काम करता है, जिसकी उसे समझ है कि इस काम से बाकी लोगों पर विपरीत असर पड़ सकता है या फिर वो दूसरों की जान खतरे में डाल सकता है, उस व्यक्ति को जेल की सज़ा या जुर्माना या दोनों हो सकता है। अब देखना यह है कि इस जुर्म के लिए कनिका कपूर को क्या और कितने दिनों की सजा मिलती है। जैसा की आप सभी जानते हैं कि कनिका कपूर ने कोरोना वायरस से संक्रमित होने की बात लोगों से छुपाई और लंदन से आने के बाद बीजेपी नेताओ के साथ एक पार्टी में भी शामिल हुई। इसके अलावा कनिका की अब तक की 5 टेस्ट कोरोना पॉजिटिव भी आ चुकी हैं। 

Third party image reference
खबर है कि कनिका ने एयरपोर्ट पर भी ये बात छिपाई कि वो लंदन से सफर करके आ रही हैं और उन्होंने एयरपोर्ट पर कोरोना की स्क्रीनिंग को चकमा दिया और टॉयलेट में घुस गईं। उन्होंने अगर अपना चेकअप करवा लिया होता तो वहीं से उन्हें quarantine कर दिया गया होता और ये संक्रमण फैलने की गुंजाइश ही नहीं बचती। लोगों ने कनिका का साथ देते हुए सवाल भी उठाया कि अगर उन पर FIR दर्ज है तो उन सभी लोगों पर FIR दर्ज होनी चाहिए जो उस वक्त पार्टी में शामिल थे। अब देखते हैं कि कनिका को अपनी इस गलती की सज़ा कब तक भुगतनी पडती है।
close