कुछ इस तरह से Lockdown खत्म करने की है सरकार की योजना, हॉटस्पॉट को छोड़कर यहां पर शुरू हो सकती है ये सेवाएं

राज्यों को भी फैसले का अधिकार दिया जाएगा. हालांकि राज्यों ने केंद्र पर ही इसका फैसला छोड़ा है. बता दें कि देश के 18 राज्यों के 91 जिलों में 80% कोरोना के मामले हैं. दिल्ली, मुम्बई, इंदौर और पुणे पर ज़्यादा नज़र और निगरानी है. यहां के मामलों में कमी के बाद ही सही तरह से आकलन होगा. Coronavirus Indore News Update Indore police punished for ...

अनुमान लगाया जा रहा है कि मई के पहले हफ्ते के बाद हालात बेहतर हो पाएगा. जमाती के मामलों के कॉन्टेक्ट्स के बाद हालात का मूल्यांकन बेहतर हो पाएगा. रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट किट का अब भी है इंतज़ार किया जा रहा है. वहीं, 1 लाख बेड्स फिलहाल देशभर के हॉस्पिटल में तैयार हैं. इसके साथ-साथ 20% मरीजों को ही ऑक्सीजन या वेंटीलेटर की ज़रूरत बताई जा रही है.

उधर, कई चरणों में काम शुरू हो गया है. इसके लिए देश को तीन जोन में बांटे जाने की कवायद शुरू की जा रही है. इसके तहत ग्रीन, ऑरेंज और रेड जोन बनाए जा रहे हैं. 

लॉकडाउन को इन्हीं जोन के हिसाब से लागू किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्रियों की चार घंटे की मैराथन बैठक में चाहे लॉकडाउन दो हफ्ते बढ़ाने पर सहमति बनी हो, लेकिन यह भी आम राय है कि इसे धीरे-धीरे हटाया जाए. पीएम ने 'जान भी, जहान भी' की बात कहकर साफ कर दिया है कि वे कोरोना से लोगों की जान बचाने के साथ ही उनकी आजीविका और अर्थव्यवस्था को भी बचाना चाह रहे हैं. अब चरणबद्ध ढंग से एक-एक कर कदम बढ़ाया जाएगा.
close